रजिस्ट्री के बाद प्लॉट काे जालसाजों ने एक बदमाश को बेच दिया, मामला दर्ज!

रजिस्ट्री के बाद प्लॉट काे जालसाजों ने एक बदमाश को बेच दिया, मामला दर्ज!
Share on social media
– फर्जी दस्तावेज से बेचा प्लॉट, मामला दर्ज
– जालसाजों राजू मालवीय और वीरेंद्र मिश्रा ने बदमाश विक्की सरदार की करा दी दोबारा रजिस्ट्री
mp03.in संवाददाता भोपाल
 निशातपुरा थाना क्षेत्र में एक प्लॉट को रजिस्ट्री के बाद जालसाजों ने  फर्जी मालिक खड़ा कर दोबारा एक बदमाश को बेचकर उसकी दोबारा रजिस्ट्री करा दी। वहीं,  प्लॉट के असली मालिक को पता ही नहीं चला कि उसकी जमीन के फर्जी दस्तावेज से कोई उसके प्लॉट को दोबारा बेच दिया है। खरीददार की शिकायत के बाद पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। निशातपुरा थाना पुलिस के अनुसार बुधवारा निवासी असलम खान (40) नगर निगम में नौकरी करता है। कुछ साल पहले उसकी मुलाकात निशिकांत मानके से हुई थी। निशिकांत को पैसों की जरूरत थी, उन्होंने  ईडन गार्डन के पास स्थित अपना प्लॉट छह लाख रुपए में असलम खान को बेच दिया। असलम ने प्लॉट की रजिस्ट्री कराने के बाद उस पर कब्जा नहीं किया। कुछ माह पहले असलम ने मकान बनवाने के लिए जब प्लॉट पर पहुंचा तो पता चला कि उक्त प्लॉट पर छोला थाना क्षेत्र के बदमाश विक्की सरदार का कब्जा मिला। पूछताछ में विक्की सरदार ने बताया कि उसे निशिकांत मानके ने प्लॉट बेचा है। असलम ने इसकी शिकायत निशातपुरा थाने में की। थाना पुलिस ने जब विक्की सरदार से रजिस्ट्री मंगाई और जांच की तो रजिस्ट्री कराने वाला व्यक्ति को निशिकातं बनकर ही रजिस्ट्रार कार्यालय में हस्ताक्षर किए, लेकिन फोटो निशिकांत के नहीं थे। बाद में निशिकांत ने पुलिस को बताया कि उसने अपना प्लॉट असलम को बेचा है। विक्की सरदार व अन्य को नहीं। जांच में खुलासा हुआ कि प्रापर्टी डीलर राजू मालवीय और वीरेंद्र मिश्रा ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर क्षद्म व्यक्ति को निशिकांत बनाकर विक्की सरदार को रजिस्ट्री करा दी थी। पुलिस ने अब क्षद्म निशिकांत मानके और राजू मलवीय के साथ वीरेंद्र मिश्रा को धोखाधड़ी का आरोपी बनाया है। फिलहाल किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *