मामला दर्ज करने के बाद अब कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के कालेज को पुलिस ने ढहाया!

मामला दर्ज करने के बाद अब कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के कालेज को पुलिस ने ढहाया!
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल 

फ्रांस के खिलाफ भीड़ इकट्ठा कर प्रदर्शन के दौरान धर्म विशेष की भावनाओं को आहत करने के मामले में बुधवार को कांग्रेस विधायक  आरिफ मसूद पर 153 ए की कार्रवाई के बाद गुरुवार को भोपाल नगर निगम ने भी उसपर शिकंजा कस दिया है। गुरूवार को भारी पुलिस बल की मौजूदगी में नगर निगम के अमला खानू गांव स्थित विधायक मसूद के कालेज पहुंचा। जहां कालेज के बेजा अतिक्रमण को जेसीबी मशीनों से ढहा दिया गया।

एक मैसेज पर हजारों एकत्रित हो गए थे 

जिस मसूद के अतिक्रमण को तोड़ने के लिए आज नगर निगम का अमला और बड़ी संख्या में पुलिस बल खानू गांव पहुंची थी, यह  मसूद कांग्रेस के वो ही विधायक हैं, जिन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ एक मैसेज के जरिए भोपाल के इकवाल मैदान में 25000 लोगों की भीड़ इकट्ठा कर ली थी। जिसके बाद भोपाल पुलिस ने आरिफ मसूद के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की।

एक दिन पहले ही हुई थी मसूद पर एफआईआर

कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद पर आरोप था कि उन्होंने फ्रांस के खिलाफ भीड़ इकट्ठा करने के लिए भोपाल के मुस्लिम समाज के लोगों को इकवाल मैदान में इकट्ठा किया था, साथ ही फ्रांस का झंडा और वहां के राष्ट्रपति का पुतला भी जलाया था। वहीं विधायक आरिफ मसूद ने इस दौरान भाषण में कहा कि यदि भारत सरकार ने फ्रांस का विरोध नही किया तो हम ईंट से ईंट बजा देगें। पहले तो भोपाल पुलिस ने इस पूरे मामले को धारा 144 के अंतर्गत लेते हुए धारा 144 उल्लंघन का मामला दर्ज किया था। लेकिन कल सरकार ने रूख बदल लिया और आरिफ मसूद सहित 7 लोगों पर धार्मिक भावनाएं भड़काने को लेकर एफआईआर दर्ज की।

भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात

आरिफ मसूद का खानू गांव में अवैध निर्माण को तोड़ने के लिए भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात किया गया था।  वहीं प्रशासन ने बड़े तालाब में कैचमेंट एरिया में निर्मित बिल्डिंगों पर कार्रवाई शुरू कर दी। जहां आरिफ मसूद का कालेज भी बना हुआ है, बताया जा रहा है कि खानू गांव में अवैध निर्माण को तोड़ने के विरोध में भी काफी लोग मौजूद थे। जिसकी सुरक्षा में पुलिस बल भी मौजूद रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *