कारोबारी की मौत के बाद पार्टनर के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज

कारोबारी की मौत के बाद पार्टनर के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज
Share on social media
mp03.in संवाददाता भोपाल 
मकान बेचकर 26 लाख रुपए साझेदार के साथ मिलकर भेल की ठेकेदारी में लगाने के बाद पार्टनर की जालसाजी से परेशान होकर आत्महत्या करने वाले कारोबारी के सुसाइट नोट के बाद पुलिस ने पार्टनर के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर लिया है।
पुलिस के अनुसार निजामुद्दीन कॉलोनी निवासी 54 वर्षीय सरफराज आलम ने बीती दो जुलाई की सुबह फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। मृतक के पास एक सुसाइड नोट मिला था, जिसमें छगनलाल पराडकर द्वारा धंधे में धोखा देकर लाखों का घाटा पहुंचाने की बात लिखी थी। मृतक उसके साथ साझेदारी में भेल में ठेकेदारी करता था। दोनों के बीच वर्ष 2008-09 से अनुबंध भी था। सरफराज ने सिद्धार्थ नगर में अपना 26 लाख का मकान बेचकर साझेदारी में रुपये लगाए थे। छगनलाल ने मृतक को धोखा देते हुए लाखों रुपये का घाटा बता दिया। सरफराज ने इस संबंध में छगनलाल से बात की, तो वह कहता था कि अब तेरे पास मरने के अलावा कोई चारा नहीं है। जिसके बाद से ही सरफराज परेशान रहने लगा था, 2 जुलाई को उसने आत्महत्या कर ली थी।
यह लिखा था सुसाइट नोट पर 
सुसाइड नोट में सरफराज ने लिखा था कि जज साहब जीना किसे बुरा लगता है, लेकिन इसने मुझे मजबूर कर दिया है। मृतक द्वारा छोड़े गए सुसाइड नोट में उसने आरोपित को सख्त से सख्त सजा देने की बात लिखी थी। जांच के बाद पुलिस ने छगनलाल के खिलाफ खुदकुशी के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक आरोपी को जल्‍द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *