डीआईजी के वाहन चालक के खाते से जालसाजों ने निकाले 85 हजार

डीआईजी के वाहन चालक के खाते से जालसाजों ने निकाले 85 हजार

mp03.in संवाददाता भोपाल 

 अवधपुरी इलाके में डीआइजी के वाहन चालक को जालसाजों ने केवायसी करने के नाम पर झांसे में लेकर मोबाइल एप डाउनलोड कराने के बाद  बैंक खाते से 3 बार में 85 हजार रुपए निकाल लिए। अवधपुरी पुलिस ने आरक्षक की शिकायत पर धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। अवधपुरी पुलिस के अनुसार जितेंद्र सिंह राठौर पुत्र कमलेश सिंह राठौर (28) दतिया में एसएएफ की 29वीं बटालियन में पदस्थ हैं। एसएएफ में ही पदस्थ एक डीआईजी अवधपुरी थाना क्षेत्र के अनुपम नगर फेस-2 में रहते हैं। फरियादी जितेंद्र सिंह डीआईजी के वाहन चालक हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि 27 अक्टूर 2022 को वे डीआईजी के मकान में ही थी, तभी उनके पास एक जालसाज ने बैंक का कर्मचारी बनकर फोन किया और केवायसी अपडेट करने को कहा। मैंने बैंक कर्मचारी बने जालसाज की बात मान ली। उसने यूनो एप डाउनलोड करने को कहा। मैंने उक्त एप डाउनलोड करने लगा। एप डाउनलोड के लिए मांगी गई डिटेल भी फिल कर दी। इसके बाद मेरा फोन हैंग हो गया। फोन जब चालू हुआ तो मेरे फोन में तीन मैसेज पड़े थे। एक मैसेज 51 हजार, दूसरा 26 और तीसरा 9 हजार रुपए खाते से निकालने के मैसेज थे। पुलिस ने आरक्षक की शिकायत पर धोखाधड़ी का मामला मोबाइल धारक पर दर्ज कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.