पीएचई अधिकारी से बदसलूकी कर एनकाउंटर की धमकी देने वाला एसआई कार्यालय अटैच

पीएचई अधिकारी से बदसलूकी कर एनकाउंटर की धमकी देने वाला एसआई कार्यालय अटैच

– विभागीय जांच के बाद हो सकती है बड़ी कार्रवाई,एक्सीडेंट केस में राजीनामा नहीं करने पर किया था मारपीट का मुकदमा दर्ज

mp03.in संवाददाता भोपाल 

9 अक्टूबर की रात को पीएचई अधिकारी और उनके भतीजे से थाने में बदसलूकी और  एनकाउंटर की धमकी देने वाले एसआई लवकुश पांडे को एडीसीपी कार्यालय अटैच कर दिया गया है। साथ ही एसआई के खिलाफ विभागीय जांच चालू कर दी गई है। संभवत: जांच के बाद उसके खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जा सकती है। जानकारी के अनुसार शैलेंद्र सिंह सीहोर के रहने वाले हैं और पीएचई विभाग में अधिकारी हैं। 9 अक्टूबर की रात को निजी कार्य से भतीजे के साथ अपनी कार से भोपाल आए थे। चंचल चौराहा पर उनकी कार में पीछे से एक वैन में सवार तीन चार युवकों ने टक्कर मार दी थी। शैलेंद्र का आरोप है कि वैन सवार युवक नशे में धुत थे। कार में टक्कर मारने के बाद में उन्होंने बदसलूकी की। मदद के लिए पुलिस को मौके पर बुलाया गया। मौके पर पहुंची पुलिस दोनों पक्षों को थाने लाया गया। यहां पुलिस ने शैलेंद्र की ओर से की गई शिकायत के आधार पर वैन सवार ड्रायवर के खिलाफ लापरवाही से वाहन चलाकर टक्कर मारने का प्रकरण दर्ज किया। इस समय एसआई लवकुश पांडे ड्यूटी आधिकारी थे। बताया जा रहा है कि उन्होंने एफआईआर दर्ज कराने के पूर्व शैलेंद्र पर राजीनामा का दबाव बनाया था। बात नहीं मानने पर उनसे बदसलूकी की गई। इतना ही नहीं दबाव बनाने के लिए शैलेंद्र के भतीजे को मारपीट के आरोप मेें लॉकअप में बंद कर दिया गया। विरोध करने पर जमकर बदसलूकी की गई। उन्हें एनकाउंटर तक करने की धमकी दे डाली। अपनी मनवाने के लिए शैलेंद्र व भतीजे पर मारपीट का मुकदमा भी दर्ज कर दिया गया। बाद में इस मामले की शिकायत शैलेंद्र की ओर से पुलिस कमिश्नर मकरंद देउस्कर से की गई। जांच के बाद मंगलवार को डीसीपी विजय खत्री ने एसआई लवकुश को उपायुक्त कार्यालय अटैच कर दिया गया ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.