पति ने भी उसी पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या की, जिससे झुलकर पत्नी ने दी थी जान

पति ने भी उसी पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या की, जिससे झुलकर पत्नी ने दी थी जान
– पत्नी और मां की मौत से था दुखी, सुसाइड नोट छोड़ा

mp03.in संवाददाता भोपाल 

 ऐशबाग इलाके में सोमवार शाम एक निजी बैंककर्मी ने घर में पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। करीब एक महीने पहले मृतक की पत्नी ने भी इसी पंखे से फंदा लगाकर जान दे दी थी। मृतक ने एक सुसाइड नोट लिखा है, जिसमें उसने अपनी मां की मौत से दुखी होने की बात कही है। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
एएसआई योगेन्द्र सिंह ने बताया कि आचार्य नरेन्द्र देव नगर निवासी दीपक यादव पुत्र स्व. राजा यादव(35) एमपी नगर स्थित एक निजी बैंक में नौकरी करता था। सोमवार शाम करीब साढ़े पांच बजे उसने अपने घर में पंखे से साड़ी का फंदा बांधकर फांसी लगा ली। इसी दौरान उसके रिश्ते के भाई विशाल और बहन साक्षी घर पर पहुंचे। दरवाजा न खुलने पर पड़ोसियों की मदद से दरवाजा खुलावाकर दोनों  अंदर पहुंचे। जहां पर कमरे में दीपक फंदे पर लटका हुआ था और उसकी मौत हो चुकी थी। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव बरामद किया। शुरूआती छानबीन के दौरान पुलिस को मृतक का लिखा एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने लिखा है कि अब मां भी नहीं रही, पहले तो हर रोज मां के पैर छू कर घर से निकलता था। अब मां ही नहीं रही। एएसआई सिंह ने बताया कि करीब एक माह पहले दीपक की पत्नी हेमलता ने भी उसी कमरे में उसी पंखे से फांदा बांधकर फांसी लगाई थी। पुलिस ने मर्ग कायम कर पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।
युवती ने फांसी लगाकर जान दी
कोलार थाना पुलिस के अनुसार कजलीखेड़ा निवासी रमली पुत्री बहादुर(19) ने छटवीं कक्षा के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी। रमली अपने माता-पिता के साथ मजदूरी करती थी। सोमवार को उसके माता-पिता काम पर चले गए थे। वह अपने छोटे भाई के साथ घर पर ही थी। इसी दौरान उसने अपने घर में लोहे के पाइप से रस्सी का फंदा बांधकर फांसी लगा ली। शाम करीब साढ़े छह बजे माता-पिता के घर लौटने पर घटना का पता चला। पुलिस को मृतका के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। इससे आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.