शादी के महज 9 महीने बाद ही नवविवाहिता ने फांसी लगाकर दी जान

शादी के महज 9 महीने बाद ही नवविवाहिता ने फांसी लगाकर दी जान
 mp03.in संवाददाता भोपाल 
पिपलानी इलाके में शादी के महज 9 महीनों के बाद ही नववाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सुसाइड नोट नहीं मिलने से आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। हालांकि मृतका के भाई ने मामले में हत्या कर शव फंदे पर लटकाने के आरोप लगाए हैं। मामले में पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है। पुलिस का कहना है कि मृतका के मायके वालों के बयानों के आधार पर ससुराल वालों के खिलाफ कार्रवाई तय की जाएगी।
जानकारी के अनुसार 40 क्वार्टर पिपलानी निवासी शीतल वर्मा पत्नी रोहित वर्मा की शादी इसी साल 26 जनवरी को हुई थी।  राेहित नगर निगम में डेलीवेजेस कर्मचारी हैं। जबकि  ससुर गंगाराम वर्मा दिन में डीपीएस स्कूल की बस चलाते हैं। रात में पत्नी रात के समय में पिपलानी इलाके में स्थित एक निर्माणाधीन मल्टी में चौकीदारी करते हैं। रविवार की रात मल्टी में नौकरी करने के बाद दंपत्ति सोमवार की सुबह पांच बजे लौटे, तो बहू शीतल फांसी के फंदे पर लटकी थी। शव को फंदे से उतारने के बाद में पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है। ससुर का कहना है कि बहू ने किसी प्रकार की कोई परेशानी का जिक्र कभी नहीं किया। पुलिस का कहना है कि मायके वालों के डिटेल बयानों के बाद ही आगे की कार्रवाई तय की जाएगी।
– भाई के आरोप
शीतल के छोटे भाई निशांत उर्फ नीरज वर्मा ने बताया कि उनकी बहन दसवीं कक्षा तक पढ़ी थी। शादी में उसे सभी जरूरी साजों सामान दहेज के रूप में दिया था। जीजा रोहित शराब पीने का आदि है। वह बहन से दहेज में गाड़ी व वाशिंग मशीन लाने के लिए प्रताडि़त करते थे। सास और ससुर भी प्रताडि़त किया करते थे। आए दिन की जुल्म ज्यादतियों को लेकर उनकी बहन पूर्व में एक बार ससुराल छोड़कर घर आ गई। करीब एक सप्ताह वह घर में रही। बाद में जीजा उनके पिता के साथ आए और बातचीत करने के बाद में बहन को साथ ले गए। वह बहन को महमान नहीं भेजते थे। बहन मेहमानी में आती जीजा साथ ही महमान रुकता था। सोमवार की सुबह 6 बजे बहन के ससुर ने शीतल की आत्महत्या की जानकारी दी थ्ज्ञी। जब स्पॉट पर पहुंचे तो देखा कि बहन चादरों के लिए लगाए पाइप पर फांसी के फंदे के सहारे लटकी थी। ऐसा लग रहा था उसे मार कर लटकाया गया है। क्योंकि उसके पांव जमीन पर टिके हुए थे। इतनी कम ऊॅचाई से फांसी लगना संभव नहीं लग रहा है। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.