एम्स में भर्ती मरीज को आयुष्मान कार्ड बनवाने के नाम पर वकील ने की ठगी

एम्स में भर्ती मरीज को आयुष्मान कार्ड बनवाने के नाम पर वकील ने की ठगी

– रीवा का रहने वाला है जालसाज अधिवक्ता, केस दर्ज

mp03.in संवाददाता भोपाल 

रीवा का रहने वाले जालसाज अधिवक्ता ने करीब एक साल पहले भोपाल अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती एक मरीज से आयुष्मान कार्ड बनवाने के नाम पर 36 हजार रुपए ठग लिए हैं। आरोपी ने फरियादी को पांच लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज कराने वाले आयुष्मान कार्ड से सुविधाएं दिलवाने का झांसा दिया था।
बागसेवनिया थाने के उप निरीक्षक वीके सिंह ने बताया कि मुकेश कुमार औबेदुल्लागंज क्षेत्र का रहने वाला है। वह अक्टूबर 2021 में बीमार होने पर भोपाल के एम्स अस्पताल में मेडिकल वार्ड में भर्ती था। उसी दौरान 30-35 वर्ष का अजय कुमार द्विवेदी भी भर्ती हुआ। चूंकि अस्पताल के वार्ड में दोनों के बेड आसपास थे, लिहाजा दोनों में बातचीत होने लगी। इसी बीच आरोपी ने खुद को रीवा का रहने वाला बताया और वकालत करना बताया। फरियादी ने कहा कि उसे इलाज में काफी खर्च आ रहा है। जालसाज ने कहाकि मैं आपका एक कार्ड बनवा दूंगा, जिसमें आपको पांच लाख रुपए तक का इलाज नि:शुल्क मिलेगा। इसकेअलावा कई अन्य सुविधाएं भी दिलवाने का झांसा दिया था। फरियादी को लगा कि इलाज के खर्च से बच जाऊंगा, ऐसे में वह आरोपी की बातों में आ गया। आरोपी ने आयुष्मान कार्ड बनवाने और अन्य सुविधाएं दिलवाने के नाम पर अपने बैंक खाते में 36 हजार रुपए ट्रांसफर करा लिए। इसके बाद दोनों स्वस्थ हो गए तो अपने-अपने घर चले गए। बाद में फरियादी जब भी कार्ड बनवाने की बात करता, आरोपी डांट कर फोन काट देता। फरियादी की शिकायत पर बागसेवनिया पुलिस ने अमानत में खयानत का प्रकरण दर्ज किया है। विवेचना अधिकारी ने बताया कि आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.