आत्महत्या मानते हुए पुलिस ने बंद कर दी थी फाइल, अब हत्या का मामला दर्ज किया

आत्महत्या मानते हुए पुलिस ने बंद कर दी थी फाइल, अब हत्या का मामला दर्ज किया

mp03.in संवाददाता भोपाल 

अशोका गार्डन इलाके मेें तीन साल पहले फांसी पर लटकी मिली युवक लाश के मामले में पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर हत्या का प्रकरण दर्ज कर लिया है। पुर्व में पुलिस ने युवक की मौत को सुसाइडल केस मानते हुए फाइल क्लोज कर दी थी। हालांकि मृतक के पिता पुलिस की जांच से असुंष्ट थे। उन्होंने पूरे मामले को लेकर कोर्ट में एक परिवाद दायर किया था। कोर्ट ने साक्ष्य को मद्देनजर रखते हुए हत्या का प्रकरण दर्ज करने के आदेश पुलिस को दिए। पुलिस ने बीती रात अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।
एएसआई जयवीर सेंगर के अनुसार सुभाष कॉलोनी निवासी सलमान खान पुत्र लियाकत खान (40) प्रायवेट जॉब करता था। उसके पिता पुराने बारदाने की खरीद-फरोंख्त का काम करते हैं। 13 अक्टूबर 2019 को लड़के ने घर के पड़ोस में स्थित बारदाने के गोडाउन में सलमान का शव फांसी के फंदे पर लटका हुआ मिला था। प्रारंभिक जांच सामने आए सभी साक्ष्य आत्महत्या की तरफ इशारा कर रहे थे। पीएम रिपोर्ट में भी मौत का कारण हैंगिंग आया था। लिहाजा पुलिस ने आत्महत्या मानते हुए मामले की जांच की और मामला बाद में क्लोज कर दिया। हालांकि मृतक के पिता ने बताया था कि बेटे का गैरतगंज की एक युवती से प्रेम प्रसंग था। उसी के परिजनों ने बेटे की हत्या कर शव को गोडाउन में लटका दिया है। क्योंकि आरोपी लगातार बेटे की हत्या करने की धमकी देते आ रहे थे। वहीं, मरने से कुछ देर पहले ही सलमान ने प्रेमिका से करीब बीस मिनट तक फोन पर बातचीत की थी। इसी तरह के तमाम सबूतों को आधार मानकर कोर्ट ने मामले में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए थे। कोर्ट के आदेश पर प्रकरण दर्ज कर किया गया है। गैरतगंज में रहने वाली सलमान की प्रेमिका और उसके परिवार से भी इस मामले में पूछताछ की जाएगी। जिसके बाद आगे की कार्रवाई तय की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.