रविवार रात राजधानी पहुंचेंगे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, एसपीजी ने संभाली सुरक्षा व्यवस्था

रविवार रात राजधानी पहुंचेंगे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, एसपीजी ने संभाली सुरक्षा व्यवस्था
– गृहमंत्री शाह पांच अलग-अलग कार्यक्रम में होंगे शामिल, 
– शनिवार को एसपीजी के अधिकारियों ने किया  सभी कार्यक्रम स्थलों का  निरीक्षण
– 5 हजार के करीब सुरक्षा बल किए जाएंगे तैनात
– थ्री लेयर सुरक्षा के घेरे में रहेंगे केंद्रीय गृह मंत्री शाह
mp03.in संवाददाता भोपाल
दो दिवसीय प्रवास पर राजधानी आ रहे केंद्रीय गृहमंत्री की सुरक्षा व्यवस्थाओं की तैयारियां अंतिम दौर में पहुंच चुकी हैं। शुक्रवार को एसपीजी के अधिकारियों ने भोपाल में अमित शाह के कार्यक्रम स्थलों का निरीक्षण करने के बाद अपनी निगरानी में व्यवस्था करा रहे हैं। शनिवार को भोपाल पुलिस आयुक्त और प्रशासन के आला अधिकारियों के साथ एसपीजी के अधिकारी आज भी सभी कार्यक्रम स्थल का जायजा लिया। जबकि एसपीजी की बाकी टीम और अधिकारी देर शाम तक भोपाल पहुंच गई। वहीं, अब नए प्रारूप के तहत केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह रविवार 21 अगस्त की रात ग्यारह बजे भोपाल पहुंचेंगे। रात भोपाल में रुकने के बाद सोमवार सुबह 11 बजे से कार्यक्रम में शामिल होंगे। उनके ठहरने के लिए वीआईपी गेस्ट हाउस के साथ ही ताज लेक फ्रंट होटल में व्यवस्था की गई है। हालांकि वह कहां रूकेंगे, यह आखिरी समय पर ही तय होगा। केंद्रीय गृहमंत्री की विमानतल से लेकर उनके कार्यक्रम स्थलों व ठहरने के स्थान पर सुरक्षाकर्मियों का सख्त पहरा रहेगा। करीब पांच हजार पुलिस जवानों को दर्जन भर आईपीएस के साथ सुरक्षा में तैनात किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री कर रहे तैयारियों की समीक्षा
शनिवार दोपहर  मुख्यमंत्री निवास में बड़ी बैठक हुई।जिसमें  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक के साथ पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारियों के साथ बैठक कर तैयारियों की समीक्षा की और अंतिम रूप दिया। वहीं दूसरी तरफ भोपाल की सड़कों पर बारिश से हुए गड्ढों को भरने के साथ सड़क किनारे की बड़ी सरकारी इमारतों की बाउंड्रीवॉल पर आकर्षक पेंटिंग्स की जा रही हैं।
22 को है अंतर्राज्जीय काउंसिल की बैठक
जानकारी अनुसार,श्री शाह 22 अगस्त को स्थानीय कुशाभाऊ ठाकरे (मिंटो हॉल) में सुबह 11 बजे मध्यक्षेत्र परिषद की अंतर्राराज्यीय काउंसिल की बैठक की अध्यक्षता करेंगे। बैठक में उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शामिल होंगे। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी भी शनिवार शाम छह बजे तक भोपाल पहुंच जाएंगे। अन्य दो राज्य उत्तरप्रदेश व छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों के आगमन का कार्यक्रम अब तक नहीं मिला है।
दो साल बाद हो रही परिषद की बैठक
इस परिषद का गठन राज्य पुनर्गठन आयोग की सिफ ारिश पर 1956 में किया गया था। इसके तहत सभी राज्यों को 6 परिषद में बांटा गया। इस परिषद का उद्देश्य राज्यों के बीच आपसी समन्वय, आर्थिक और सामाजिक विकास जैसे मुद्दों पर चर्चा कर केंद्र सरकार से समाधान निकलवाना हैं। बैठक में मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की नक्सली समस्या को केंद्र की मदद से नियंत्रित करने को लेकर चर्चा, क्षेत्र में बढ़ते साइबर अपराध, छत्तीसगढ़ गठन के बाद लंबित मामले और उत्तर प्रदेश के साथ संयुक्त केन-बेतवा लिंक परियोजना से बुंदेलखंड को मिलने वाले पानी के मुद्दे पर बातचीत होगी। यह बैठक दो साल बाद आयोजित होगी। इससे पहले वर्ष 2020 में इसका आयोजन रायपुर में हुआ था। मप्र से तब तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ इसमें शामिल हुए थे।
चार हैलीपेड किए गए तैयार
सूत्रों के अनुसार केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के प्रवास को देखते हुए शहर में 4 हैलीपेड बनाए जा रहे हैं। ये हैलीपेड भौंरी और लाल परेड ग्राउंड में बनाए जा रहे हैं। शाह इंटर स्टेट काउसिंल की बैठक के बाद नेशनल फ ॉरेंसिंक साइंस यूनिवर्सिटी का उद्घाटन करेंगे। इसके बाद अपरान्ह पौने चार बजे रवीन्द्र भवन में आयोजित पुलिस हाउसिंग कॉर्पोरेशन के कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस दौरान गृह विभाग द्वारा तैयार पुलिस आवास एवं प्रशासनिक भवन का लोकार्पण एवं शिलान्यास होगा। इससे बाद वह कुााभाऊ ठाकरे जन्म शताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में आयोजित नई शिक्षा नीति के आयोजित संगोष्ठी को संबोधित करेंगे।यह कार्यक्रम मिंटो हॉल में होगा। इसके बाद वह सहकारिता विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.