मीडिया की आड़ में ऑन लाइन सट्टा खिलाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, दो गिरफ्तार

मीडिया की आड़ में ऑन लाइन सट्टा खिलाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, दो गिरफ्तार

ऑन लाईन सट्टा खिलवाने वाले सटोरिये को जबलपुर पुलिस ने पकड़ा

mp03.in संवाददाता भोपाल/जबलपुर                           

मीडिया हाउस की आड़ में  ओपन वैब पर एक्सचेंज के माध्यम से देश भर में ऑन लाइन सट्टा खिलाने वाले गिरोह का जबलपुर पुलिस ने पर्दाफाश किया है। गुरूवार को जबलपुर पुलिस ने इंकम टैक्स विभाग के साथ ज्वाइंट ऑपरेशन चलाकर सटोरियों के ठिकाने पर छापा मारकर 21 लाख रूपए नगद, 27 फर्जी कंपनियों की सील, चेक बुक्स, तीन ऋणपुस्तिकाएं, सात नोट पेड जिसमें करोड़ों के सट्टे का हिसाब किताब है। मौके से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि दो आरोपियों की तलाश चल रही है। पुलिस ने सटाेरियों के ठिकाने से डिजिटल मीडिया हाउस का एक प्रमाणपत्र भी बरामद किया है, जिसका इस्तेमाल आरोपी पुलिस की कार्रवाई से बचने के लिए करते थे।

जबलपुर पुलिस के अनुसार एसपी  जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा को 19 मई की रात सूचना प्राप्‍त हुई कि थाना लॉर्डगंज अंतर्गत राईट टाउन लाईफ स्टाईल फर्नीचर के बगल से आर.के. टावर के चैम्बर नम्बर 203, 204 में ओपन वैब पर एक्सचेंज के माध्यम से घर बैठे ऑन लाईन सट्टा खिलवाया जा रहा है।   सूचना पर एसपी बहुगुणा ने डीएसपी प्रभात शुक्ला के नेतृत्व में टीम को रवाना किया। टीम ने  मुखबिर के बताये स्‍थान पर दबिश देकर मनोज सनपाल एवं दीपक रजक को हिरासत में लिया। जिन्होंने पूछताछ में बताया कि अमित शर्मा और विवेक पांडे, आजम व सतीश सनपाल के लिए आईपीएल सट्टा से संबंधित पैसे का लेनदेन करते हैं एवं आया हुआ पैसा यहां रखी हुई अलमारी व लॉकर मैं रखते हैं।जोकि  कहीं गए हुए हैं।  पुलिस टीम द्वारा अलमारी लॉकर एवं स्थान की तलाशी  लेने पर अलमारी में 2 लॉकर मिले, जिनमें  21 लाख 55 हजार 600 रूपये नगद तथा  27 नग विभिन्न कम्पनियों की सील, तीन ऋण पुस्तिका, सात नोटपैड जिसमें सट्टे के लेनदेन के लाखों का हिसाब-किताब लिखा है। साथ ही  34 नग चेक बुक, प्रॉपर्टी से संबंधित कागजात भी मिले। विधिवत दस्तावेजों को जब्त करने के बाद एसपी बहुगुणा ने इन्कम टैक्स अधिकारियों से चर्चा कर  सटोरिया सतीश सनपाल द्वारा बेनामी फर्मो में सट्टे की रकम जमा कराये जाने के सम्बंध में जानकारी दी। जिसके बाद इन्कम टैक्स के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे, इन्कम टैक्स अधिकारियों के द्वारा मिले दस्तावेजों को जांच के लिए जब्त किया। अब पुलिस को अमित शर्मा एवं विवेक पाण्डे की तलाश  है।

मीडिया हाउस भी संचालित कर रहे थे

दबिश के दौरान  कमरे में फ्रेमिंग किया हुआ डिजिटल इंडिया एक्सप्रेस का पंजीयन प्रमाण पत्र भी जब्त किया गया। वेब पार्टल चैनल के इस प्रमाण पत्र में प्रकाशक का नाम सतीश सनपाल लिखा हुआ है को भी जप्त किया गया। पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए सटोरिए मीडिया हाउस की आड़ ले रहे थे।

विदेश से संचालित सट्टे का कारोबार 

 सट्टा किंग सतीश सनपाल द्वारा विदेश में रहकर ओपन वैब के द्वारा सेट स्पोर्ट्स, मुम्बई एक्सचेंज, सेट कैसीनो, के माध्यम से सभी प्रकार के खेलों का सट्टा पूरे भारत में बुकियों के माध्यम से ऑन लाईन खिलवाता है। जिसकी पेमेंट अधिकतर ऑन लाईन बेनामी फर्मो के खातों में खेल के पूर्व डिपाजिट करायी जाती है, साथ ही कलेक्शन एजेंटों के द्वारा सट्टे से सम्बंधित रकम का लेन देन किया जाता है।

इनकी सराहनीय भूमिका

आरोपी को पकड़ने में उप पुलिस अधीक्षक अपराध प्रभात शुक्ला, थाना प्रभारी लॉर्डगंज प्रफुल्ल श्रीवास्तव, उप निरीक्षक मनीष कुमार सिंह, सहायक उप निरीक्षक आशुतोष राय क्राइम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक अजय पांडे, प्रधान आरक्षक  ब्रम्ह प्रकाश, महेंद्र पटेल,  हर्षवर्धन, सायबर सेल के आरक्षक दुर्गेश की सराहनीय भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published.